1.25.2016

गणतंत्र दिवस (Republic Day) की हार्दिक शुभकामनायें

Happy Republic Day - Image
Happy Republic Day
नमस्कार दोस्तों, आप सभी को गणतंत्र दिवस (Republic Day) की ढेर सारी शुभकामनायें...  :)

दोस्तों, इस बात में कोई दौराहे नहीं है कि आज का युवा विदेशी संस्कृति से बहुत प्रभावित होता है, गणतंत्र दिवस, स्वतंत्रता दिवस की बधाई चाहे दे ना दे, लेकिन valentines day की बधाई देना कभी नहीं भूलते :) और भी ना जाने कौन-कौन से day को celebrate करते है। 


खेर, यहाँ पर मेरा मकसद किसी की भावनाओं को ठेस पहुँचाने का बिल्कुल भी नहीं है, लेकिन हमे हमारे देश और देश से जुड़ी हर चीज़ से प्यार होना चाहिए, उनका सम्मान होना चाहिए। हमे गर्व होना चाहिए की हम भारतीय है और हमारे देश के राष्ट्रीय दिवस को धूम धाम से मानना चाहिए और बधाई भी देना चाहिए। 

लेकिन कई बार हम ये सोच कर पीछे हट जाते है की लोग कहेंगे की हम modern (आधुनिक) नहीं है :) और इसलिए चाह कर भी बधाई देना पसंद नहीं करते, लेकिन दोस्तों ऐसा बिल्कुल नहीं है, इंसान modern उसकी सोच से बनता है इसलिए बढ़ी सोच रखिये, और अपने देश का सम्मान कीजिये। कुछ चीज़े fashion नहीं feelings से जुड़ी होती है :)

आज की young generation हमारी संस्कृति से बहुत दूर होती जा रही है, कई लोगो को तो अपने ही देश के प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति कौन है इस बात का भी पता नहीं होता, और ये बात शायद आपको भी आश्चर्यचकित करने वाली ना लगे, क्योंकि यही आज की पीढ़ी की वास्तविकता है। लेकिन जितना हो सके आपको अपने देश के बारें में जानकारी होनी चाहिए, चाहे बहुत गहराई तक जानकारी ना हो लेकिन सामान्य जानकारी रखना आपका फ़र्ज़ बनता है

तो आइये आज इस खास दिन 26 जनवरी यानि "गणतंत्र दिवस" के बारें में कुछ जानते है- 

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को मनाया जाता है, ये हमारा 67वां गणतंत्र दिवस है। 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागु हुआ था और इसी दिन को हम गणतंत्र दिवस के रूप में मानते है, गणतंत्र का मतलब होता है- जनता के द्वारा जनता के लिये शासन। 

हमारा देश भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ था और उसके पहले अंग्रेज़ो का गुलाम था, और देश को आजादी दिलाने के लिए कई क्रांतिकारियों ने अपनी जान दी, कई वीर पुरुषों के कड़े संघर्ष के बाद हमारा देश आजाद हुआ। आजादी मिलने के बाद देश को सही और नियमानुसार चलाने के लिए 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान (constitution) लागु किया गया, और इस संविधान को बनाया स्व. डॉ. भीमराव अम्बेडकर जी ने। इस संविधान में शासन से सम्बंधित सभी नियमो को शामिल किया गया, इसके पहले भारत में Government of India Act (1935) प्रयोग में लिया जाता था। 

इस राष्ट्रीय दिवस को पुरे देश में बहुत धूम धाम से मनाया जाता है, वैसे तो इस दिन पर अवकाश होता है लेकिन सभी स्कूल, कॉलेज, और सरकारी दफ्तरों में गणतंत्र दिवस का उत्सव मनाया जाता है, रैलियां निकली जाती है, देश के नाम के नारे लगाये जाते है, सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे जाते है, खेल खुद की प्रतियोगिता की जाती है, कई वीर जवान और स्कूल, कॉलेज के बच्चे परेड करते है, समाज की सेवा भाव से किये गए काम को पुरस्कृत किया जाता है, मिठाइयां बांटी जाती है और बढ़ी ख़ुशी के साथ इस दिन को मनाया जाता है। 

वैसे देश में 26 जनवरी का मुख्य प्रोग्राम भारत की राजधानी दिल्ली में बहुत ही अदभुत तरीके से मनाया जाता है, वहां स्थित लाल किले पर राष्ट्रीय धुन के साथ ध्वजारोहण किया जाता है, तोपों की सलामी दी जाती है, शहीद हुए वीरों को श्रद्धांजलि दी जाती है, हवाई जहाजों द्वारा पुष्पवर्षा की जाती है। आसमान में तिरंगे के रंग की वर्षा की जाती है बहुत ही अदभुत और सुन्दर द्रश्य देखने को मिलता है, और भारत जैसे देश का नागरिक होना एक गर्व की बात हैं, हमे अपने देश पर नाज़ होना चाहिए। एक देश की शोभा उसके देशवासियों से ही होती है, और देश के हर त्यौहार और हर राष्ट्रीय दिवस को पुरे उत्साह और जोश के साथ मानना चाहिए। 

हम चाहे तो देश में जो भी बुरा है, उसे अच्छे में बदल सकते है, देश की जनता में बहुत ताकत है बस, जरूरत है अपनी ताकत को जानने की, तो आइये आज गणतंत्र दिवस के खास मोके पर शपथ लीजिये और बदलाव लाइए ........... 
घर में बैठ कर देश के हालात का मजाक मत उड़ाइये, बिगड़ती स्थति पर अफ़सोस करना बंद कीजिये, गलत होता हुआ कुछ देख कर मुँह फेरना बंद कीजिये,
उठिए... और आगे बढ़िए, और परिवर्तन लाइये.... क्योंकि ये देश हमारा है। 


              जय हिन्द, भारत माता की जय !

                                                                         

           "सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं,
            सारी कोशिश है कि ये सूरत बदलनी चाहिए,
            मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने में सही,
            हो कहीं भी आग, लेकिन आग जलनी चाहिए। "
                                           - दुष्यन्त कुमार




आपको ये पोस्ट कैसी लगी, जरूर बताएं। :) अगर आपको अच्छी लगी है तो Facebook, Twitter और Google+ पर जरूर Share करे। 


आपके कोई Questions है Career, Interview और Resume से सबंधित तो Comment Box में send करे या हमारे Facebook Page को Like करे और हमें आपकी queries message करें ।


Important and useful posts आपके Email पर read करने के लिए आपके Email से “Sign up” करिये।

धन्यवाद!

No comments:

Post a Comment

e